संदीप अग्रवाल हत्याकांड: आखिरकार देहरादून में पकड़ाया रोहित सेठी

इंदौर: इंदौर के बहुचर्चित संदीप अग्रवाल हत्याकांड में फरार चल रहे जिस रोहित सेठी की पुलिस को तलाश थी, आखिरकार वह देहरादून में पकड़ा ही गया। अब पुलिस उसे जल्दी ही इंदौर लेकर आएगी और इस हत्याकांड के संबंध में पूछताछ कर खुलासा करेगी। यह जानकारी सोमवार को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रूचिवर्धन मिश्र मीडिया को दी।

इंदौर में एएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने सोमवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि संदीप अग्रवाल हत्याकांड में शामिल रोहित सेठी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार प्रयास कर रही थी। उसकी गिरफ्तारी पर 30 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था। बता दें कि रोहित सेठी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने उस पर चारों ओर से दबाव बनाना शुरू कर दिया था। पुलिस के बढ़ते दबाव के चलते रोहित ने कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए आवेदन भी दिया था, जिस पर आगामी पांच मार्च को सुनवाई होना है। पुलिस का पूरा प्रयास था कि रोहित की जमानत पर सुनवाई होने के पहले ही उसे गिरफ्त में ले लिया जाए और हुआ भी यही। रोहित की तलाश में जुटी पुलिस की टीमों को पता चला कि वह देहरादून में कहीं पर फरारी काट रहा है। इस सूचना के बाद पुलिस ने उसे पकडऩे की योजना बनाई और देहरादून में ही एक स्थान से गिरफ्तार कर लिया।

होटल के बाथरूम में मिली ट्रेडिंग मैनेजर की लाश

इसके पहले पुलिस ने रोहित पर दबाव बनाते हुए जहां उसकी संपत्ति को कुर्क करने और अवैध संपत्ति को जमींदोज करने की तैयारी शुरू कर दी थी, वहीं उसके साथ एसआर केबल में डायरेक्टर रहे पांच लोगों पर भी शिकंजा कसते हुए प्रकरण दर्ज किया था। चारों ओर से दबाव बनता देख रोहित ने पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए जमानत आवेदन भी लगाया था। तभी से पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए थे।

मराठा ने नहीं उगला कितने की सुपारी ली

गौरतलब है कि गत 16 जनवरी की शाम शहर के विजय नगर थाने के पीछे संदीप अग्रवाल को बदमाशों ने गोलियों से भूनकर हत्या दी थी। इस सनसनीखेज हत्याकांड के बाद पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए कुख्यात गैंगस्टर सुधाकरराव मराठा को गिरफ्त में लिया, तो पता चला कि करोड़ों रुपये के लेनदेन को लेकर रोहित सेठी ने हत्या करवाई है। इसके लिए मराठा ने कितने रुपये की सुपारी ली, इस बात का खुलासा अभी तक नहीं हो सका है। सुधाकर से पूछताछ के बाद से ही पुलिस रोहित सेठी की तलाश में जुटी थी, लेकिन वह अब तक हाथ नहीं आ रहा था।

यह छठी गिरफ्तारी, अब शूटर और कालू की तलाश

पुलिस ने संदीप अग्रवाल की हत्या के मामले में सुधाकर के अलावा अब तक चार अन्य आरोपियों को गिरफ्त में लिया है, जिसमें सुधाकर का खास शूटर टारजन भी शामिल है। टारजन के पकड़ में आने के बाद खुलासा हुआ था कि रोहित का मददगार उज्जैन का कालू सटोरिया भी है, जिसने रोहित की काफी मदद की है। वह भी अब तक पुलिस के हाथ नहीं आया है। वहीं टारजन का साथी शूटर बना भी फरार चल रहा है। पुलिस रोहित की गिरफ्तारी के बाद अब इन दोनों की तलाश में जुटी है।

सीएम मनोहर पर्रिकर को गोवा मेडिकल कॉलेज में किया शिफ्ट, हालत स्थिर, भारी पुलिस बल तैनात

सुधाकर के सामने बैठाकर होगी पूछताछ

पुलिस से बचने के लिए फरारी के दौरान रोहित सेठी पुलिस से बचता हुआ देहरादून जा पहुंचा, जहां वह पुलिस की गिरफ्त में आ गया। सूत्र बताते हैं कि सुधाकर राव मराठा ने अब तक पुलिस की पूछताछ में कई राज नहीं उगले हैं। रोहित के पकड़ में आने के बाद पुलिस सुधाकर और रोहित को आमने-सामने बैठाकर दोनों से संदीप की हत्या के संबंध में पूछताछ कर यह पता लगाएगी कि इस हत्याकांड को किन कारणों के चलते अंजाम दिया गया और कितने रुपए की सुपारी सुधाकर को दी गई थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper