सऊदी अरब में दिखा चांद, भारत में 5 जून को मनाई जाएगी ईद-उल-फितर

दुबई: दुनिया भर के मुसलमानों के लिए सबसे बड़े त्योहार में से एक ईद-उल-फितर आज सऊदी अरब में मनाया जा रहा है। सऊदी में तीन जून को ईद के चांद के दिखने का ऐलान कर दिया गया। इस साल सऊदी अरब में रमजान का मुबारक महीना 5 मई को शुरू हुई था। भारत की बात करें तो यहां ईद कल यानी बुधवार को मनाई जाएगी। भारत में पहला रोजा 7 मई को था।

भारत के साथ-साथ इंडोनेशिया, जापान, मलेशिया, थाईलैंड, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी बुधवार को ही ईद का त्योहार मनाया जाएगा। हालांकि, अभी इस बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। आज शाम चांद दिखने के बाद इस बारे में घोषणा कर दी जाएगी।

ईद का त्योहार दुनिया भर के तमाम देशों में अलग-अलग तारीखों पर मनाया जाता है। यह दरअसल इस बात पर निर्भर करता है कि इन देशों में कब-कब ईद का चांद दिखाई देता है। इस्लामिक कैलेंडर (हिजरी) के अनुसार साल में दो बार ईद (ईद उल फितर और ईद उल अजहा) का त्योहार मनाया जाता है।

इस्लामिक कैलेंडर के 9वें महीने रमजान के 20 या 30 रोजे पूरे होने के बाद चांद दिखने पर अगले दिन ईद उल फितर मनाई जाती है। ऐसे में सभी देशों में चांद दिखने को लेकर एक या दो दिनों का अंतर होता है। इस्लाम धर्म की मान्यताओं के मुताबिक रमजान के महीने में कुरान-ए-पाक का अवतरण हुआ था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper