सदाबहार फूल का महत्वपूर्ण चिकित्सा रहस्य का खोज कर लिया गया

लखनऊ: अब से 60 साल पहले सदाबहार पौधों में जिद्दी कैंसर सामने आया था लेकिन अब इस रहस्य से भी पर्दा उठाया गया है कि आखिर इस फूल में इन यौगिकों कैसे पैदा होते हैं? विशेषज्ञों के अनुसार मेडागास्कर पेरी वनकल या राज पेरी वनकल सदाबहार फूलों की एक किस्म है। इस पते से वन बलस्टेन नामक संगठन निकाला जाता है। 1950 में पता चला कि यह संगठन कैंसर के खिलाफ अत्यधिक प्रभावी भूमिका निभाता है और यह रसायन कोशिकाओं को विभाजित होने से रोक कर मूत्राशय, फेफड़ों, ओवर और स्तन कैंसर को ठीक करने में सहायता प्रदान करता है।

वन बलस्टेन के साथ एक महत्वपूर्ण समस्या यह है कि उसे हासिल करना बहुत मुश्किल होता है और 500 किलोग्राम सूखे पत्तों से केवल एक ग्राम मात्रा ही निकाली जाती है और इसके बावजूद यह प्रक्रिया बहुत धीमी और महंगा होता है। इसी आधार पर विशेषज्ञों वन बलस्टेन बनने की प्रक्रिया 60 साल से विचार कर रहे हैं ताकि इसे कृत्रिम रूप से प्रयोगशाला में विकसित किया जा सके।

ब्रिटेन में स्थित जॉन आयनज़ केंद्र से जुड़े प्रोफेसर सारा ओ कॉनर और उनकी टीम ने पिछले 15 साल से मेडागास्कर सदाबहार फूल पर आनुवंशिक अनुसंधान कर रहे हैं। अब यहां के डॉक्टर लवरीनज़ो कीपयूटी और फ्रांस के विशेषज्ञों ने मिलकर इस समस्या का अंतिम भाग भी हल कर दिया है जिसके लिए जीनोम नवीनतम तकनीक का उपयोग कर रहे हैं और उन्होंने वन बलस्टेन उत्पादन में अब तक ओझल रहने वाले महत्वपूर्ण जीन खोज कर लिए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
loading...
E-Paper