सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के 10 विधायक बीजेपी में हुए शामिल

नई दिल्ली: सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (SDF) के 10 विधायकों ने बीजेपी की सदस्यता ली है. इनमें दोरजी सेरिंग पांच बार विधायक रहे, उकेन ग्याल पूर्व मंत्री रहे, नरेंद्र कुमार सुंगा तीन बार के विधायक रहे, डीआर थापा दो बार विधायक रहे, करमा सोरिंग लेप्चा दो बार के विधायक रहे, केबी रॉय विधायक, टीटी भूटिया विधायक, परवंती तमांग विधायक, पिंटो नामग्याल विधायक, लेप्चा राजकुमारी थापा विधायक शामिल हैं. इन विधायकों के शामिल होने के बाद बीजेपी के महासचिव राम माधव का कहना है कि पार्टी अब सिक्किम में मुख्य विपक्षी दल के तौर पर सिक्किम में भूमिका निभाएगी.

बीजेपी में शामिल होने के बाद विधायक दोरजी सेरिंग ने कहा कि इस साल हुए सिक्किम विधानसभा चुनाव में SDF ने 15 सीटें जीती थीं. अभी तीन विधानसभाओं में उपचुनाव होना है उसके लिए हम काम करेंगे.सिक्किम के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि इतनी बड़ी तादात में विधायक शामिल हो रहे हैं. मोदी जी की ‘नार्थ ईस्ट पॉलिसी’ को युवा पसंद कर रहा है. इसीलिए हम चाहते हैं कि सिक्किम में कमल खिले. जब तक राष्ट्रीय पार्टी सिक्किम में काम नहीं करेगी तब तक कुछ नहीं हो पाएगा. जम्मू कश्मीर में जो हुआ उससे सिक्किम के लोग बहुत प्रभावित हैं.

आपको बता दें कि पहले एसडीएफ के 15 से 14 विधायकों के शामिल होने की खबर थी लेकिन अब 10 विधायकों ने बीजेपी ज्वाइन किया है. इस पार्टी के नेता पवन चामलिंग 25 साल तक लगातार मुख्यमंत्री रहे हैं. देश में सबसे लम्बे समय तक CM पद संभालने वाले राजनेताओं में शुमार पवन चामलिंग की पार्टी इसी साल लोकसभा चुनाव के साथ कराए गए विधानसभा चुनाव में 32 सीटों वाले राज्य में बहुमत हासिल नहीं कर पाई थी, और 15 विधायकों के साथ विपक्ष में बैठी थी. चुनाव में सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा को 17 सीटें हासिल हुई थीं, और प्रेम सिंह तमांग मुख्यमंत्री बने थे.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper