सिर्फ 4 दिन सुबह अजवाइन का पानी पीने से ऐसे परिणाम मिलेंगे कि आप हैरान रह जाएंगे

लखनऊ: दोस्तों अजवाइन को हर घर में मसाले के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन इसमें मौजूद कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, आयोडीन, कैरोटीन, जैसे तत्व हमे कई हेल्थ बेनिफिट्स देते है। अगर रोज़ाना सुबह अजवाइन का पानी पिय तो हेल्थ प्रॉब्लम को कम किया जा सकता है। आइए जान लेते है की अगर सर्दियों में हम रोज़ सुबह अजवाइन का पानी पियेंगे तो हमे क्या-क्या फायदे मिल सकते है।

रात को एक गिलास पानी में दो चम्मच अजवाइन को भिगोकर रख दें। और सुबह को इस पूरे पाने को अजवाइन समेत उबाल लें फिर हल्का गुनगुना होने पर इसे छान कर पीलें। इसे रोज़ाना पीने से डायबटीज़ की आशंका काफी कम हो जाती है। और जिन लोगो को डायबटीज़ नहीं है उन्हें भविष्य में कभी डायबटीज़ नहीं होगी।

सिर्फ दो मिनट में हाथ पैरों को दूध जैसा सफेद बना देगा ये नुस्खा

हार्ड डिज़ीज़ में भी ये बहुत ही फायदेमंद होता है इसे रोज़ाना पीने से हार्ड डिज़ीज़ का खतरा टल जाता है। ओरल हेल्थ में ये बहुत ही अच्छा होता है इससे दांतों का दर्द और मुहं की दुर्घंध भी खत्म हो जाती है। ये पेट से रिलेटेड सभी बीमारियां भी दूर कर देता है और कब्ज़ में हमेशा के लिए आराम मिल जाता है।

ये किडनी स्टोन और दर्द से राहत देता है। और खाना जल्दी डाइजेस्ट करने में हमारी काफी हेल्प करता है। ये शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाकर वजन घटाने में हमारी मदद करता है। इस पानी को दिन में दो बार पीने से डायरिया की प्रॉब्लम दूर हो जाती है। ये सर्दी कफ की प्रॉब्लम को दूर कर अस्थमा का खतरा भी टाल देता है।

इसमें एक चुटकी काला नमक मिलाकर पीने से खांसी ठीक हो जाती है और एक कप अजवाइन का पानी पीने से सर दर्द में राहत मिलती है। अजवाइन के पानी में एक से दो चुटकी काला नमक मिलाकर पीने से पेट के सारे कीड़े भी खत्म हो जाते है। और इसे रोज़ाना सोने से पहले पीने से नींद बहुत अच्छी आती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper