सीएए विरोधी बेटी के पोस्ट पर सौरव गांगुली ने दी सफाई

नई दिल्ली: नागरिकता (संशोधन) अधिनियम से संबंधित सना के एक कथित इंस्टाग्राम पोस्ट के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के वर्तमान अध्यक्ष सौरव गांगुली ने सभी से आग्रह किया है कि उनकी बेटी को राजनीतिक मुद्दों से दूर रखें। गांगुली ने बुधवार शाम ट्विटर पर कहा कि यह पोस्ट सच नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि राजनीति के बारे में कुछ भी सोचने-समझने के मामले में वह अभी काफी छोटी है।

गांगुली ने ट्वीट किया, “कृपया सना को इन सभी मुद्दों से दूर रखें..यह पोस्ट सच नहीं है..राजनीति में कुछ भी समझने के लिए वह अभी बहुत छोटी है।” सना के इंस्टाग्राम पोस्ट का एक स्क्रीनशॉट हाल ही में वायरल हुआ। उन्होंने इसमें सीएए के विरोध के मद्देनजर खुशवंत सिंह द्वारा रचित उपन्यास ‘द एंड ऑफ इंडिया’ के अंश को पोस्ट किया था।

CAA विवाद के चलते पाकिस्तान से आई ‘हसीना’ को मिली भारत की नागरिकता, जानिए क्या है नागरिकता कानून

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper