सीएम योगी ने नोएडा में अधिकारियों को लगाई फटकार, डीएम बोले- नहीं करना चाहता काम, दे दो छुट्टी

नोएडा: देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच नोएड के जिलाधिकारी बीएन सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने एक चौंकाने वाली बात कहते हुआ कहा है कि मैं नोएडा में काम नही करना चाहता । बता दे डीएम नोएडा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने जमकर तमाशा किया है। उन्होंने कहा कि 18-18 घण्टे काम करना पड़ रहा है। मैं काम करने में असमर्थ हूं।

बता दें कोरोना वायरस के उत्तरप्रदेश में बढ़ते मामलों के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज ने नोएडा का दौरा किया था। उन्होंने शहर में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच सभी प्रशासनिक सेवाओं का जायदा लिया। जिसके बाद उन्होंने डीएम के साथ एक मीटिंग की। जिसमें डीएम बीएन सिंह ने तमाशा कर दिया। डीएम ने मुख्यमंत्री से कहा कि वह जिले में अब और काम नहीं कर सकते। वह 18-18 घण्टे काम करके थक गए हैं। मैं यहां काम करने में असमर्थ हूं। मुझे 3 महीने की छुट्टी दें।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए नोएडा में सीएम योगी संक्रमण से लड़ने के लिए जिले में तैयारियों का जायजा लेने नोएडा पहुंचे। सीएमओ व अधिकारियों से बातचीत के बाद सीएम योगी ने नोएडा का हवाई सर्वेक्षण भी किया। इसके बाद उन्होंने जिले के आला अधिकारियों के संग बैठक की। बताया जा रहा है कि नोएडा के गांवों में खाने के लिए बाहर भटकते लोगों को भोजन की व्यवस्था के लिए भी निर्देश दिए गए हैं। उत्तर प्रदेश में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 75 हो गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper