सीबीआई की गिरफ्त में चिदंबरम

नई दिल्ली: दिन भर चले नाटकीय घटनाक्रम के बीच सीबीआई ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया से संबंधित मामले में बुधवार रात को यहां उनके जोर बाग स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया। इसके पहले चिदंबरम को इस मामले में सुप्रीम कोर्ट से तत्काल राहत नहीं मिली और मामले पर सुनवाई शुक्रवार के लिए तय की गई। इसके बाद सीबीआई और ईडी को पूर्व वित्त तथा गृह मंत्री को गिरफ्तार करने के लिए स्वतंत्रता मिल गई। सीबीआई और ईडी ने इससे पहले चिदंबरम के खिलाफ लुक आउट परिपत्र जारी किया था, ताकि उन्हें देश छोड़ने से रोका जा सके।

जब शाम में चिदंबरम कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया को संबोधित कर जोर बाग स्थित अपने आवास पहुंचे, तब सीबीआई अधिकारियों की टीम भी वहां पहुंच गई। कुछ देर दरवाजा खटखटाने के बाद उसने दीवार फांद कर उनके घर में प्रवेश किया।अधिकारी पूर्व वित्त मंत्री को उनके आवास से सीबीआई मुख्यालय ले गए। बाद में सीबीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि चिदंबरम को गिरफ्तार कर लिया गया है। चिदंबरम को एक सक्षम अदालत द्वारा जारी वारंट के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। चिदंबरम को उनके आवास पर गिरफ्तार करने के बाद राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जा गया, जहां उनकी मेडिकल जांच कराई गई।

उनको सीबीआई मुख्यालय के भूतल पर एजेंसी के अतिथि गृह के सुइट नंबर 5 में रखा गया है। उन्हें बृहस्पतिवार को विशेष सीबीआई अदालत में पेश किया जाएगा, जहां एजेंसी उनकी रिमांड की मांग करेगी।इससे पहले शीर्ष अदालत ने कहा कि याचिका में खामियों को अभी-अभी दुरुस्त किया गया है और इसे ‘‘तत्काल सुनवाई के लिए आज सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता।’नहीं चली सिब्बल की दलील : न्यायमूर्ति एनवी रमण, न्यायमूर्ति एम शांतनगौडर और न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी की पीठ ने कहा, ‘‘याचिका को सूचीबद्ध किए बिना हम मामले पर सुनवाई नहीं कर सकते।’

अदालत में चिदंबरम का पक्ष रख रहे वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने जब मामले पर बुधवार को ही सुनवाई करने की मांग दोहराई, तो पीठ ने कहा, ‘‘माफ कीजिए श्रीमान सिब्बल। हम मामले पर सुनवाई नहीं कर सकते।’सिब्बल ने कहा कि वह एक बार फिर सूचीबद्ध किए जाने के लिए मामले का उल्लेख कर रहे हैं, क्योंकि उन्हें इसे सूचीबद्ध किए जाने को लेकर रजिस्ट्री से कुछ भी पता नहीं चला है। सिब्बल ने बताया कि जांच एजेंसियों ने लुक आउट नोटिस जारी कर दिया है, जैसे कि चिदंबरम ‘‘भागने वाले’ हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper