सोने के तरीके से भी जुड़ी है आपकी सेहत, पैरों के बीच में तकिया से हो सकती…

सभी चाहते हैं कि पूरे दिन की थकान के बाद आरामदायक नींद ली जाए। ऐसे में सभी अपने पसंद की मुद्रा में सोते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सोने के तरीके से भी आपकी सेहत (Health) का बड़ा नाता हैं। जी हां, आपकी स्लीपिंग पोजिशन से आपकी सेहत पर कई शारीरिक प्रभाव पड़ते हैं। आज हम आपको कुछ स्लीपिंग पोजीशन (Sleeping Position) और उनसे सेहत पर पड़ने वाले प्रभावों की जानकारी देने जा रहे हैं। तो आइये जानते हैं इसके बारे में।

सोने के तरीके से भी जुड़ी है आपकी सेहत, पैरों के बीच में तकिया से हो सकती…

पैरों के बीच में तकिया

पीरियड्स (Periods) के दौरान कई लोगों को पीठ दर्द की समस्या होती है। इस तकलीफ से बचने के लिए आप अपने घुटनों के पीछे तकिया लगा कर सो सकती हैं। इससे आपकी बैक और पैर दोनों के दर्द से राहत मिलेगी।

उलटा सोने से फायदे

अगर आपको हाई ब्‍लड प्रेशर (Blood Pressure) की प्रॉब्‍लम है तो आप इसे सही पोजिशन में सो कर ठीक कर सकती हैं। इसके लिए

पैरों के बीच में तकिया

पीरियड्स (Periods) के दौरान कई लोगों को पीठ दर्द की समस्या होती है। इस तकलीफ से बचने के लिए आप अपने घुटनों के पीछे तकिया लगा कर सो सकती हैं। इससे आपकी बैक और पैर दोनों के दर्द से राहत मिलेगी।

उलटा सोने से फायदे

अगर आपको हाई ब्‍लड प्रेशर (Blood Pressure) की प्रॉब्‍लम है तो आप इसे सही पोजिशन में सो कर ठीक कर सकती हैं। इसके लिए आपको पीठ के बल सोने की जगह मुंह के बल सोना होगा। इससे आपका ब्‍लड प्रेशर लो होता है।

सिर के नीचे दो तकिये

बहुत सारे लोगों को सिर के नीचे दो तकिये लगाने की आदत होती है। क्या आप जानते हैं कि साइनस (Sinus) की समस्या झेल रहे लोगों के लिए यह पोजिशन काफी लाभदायक है। अगर आपको भी ये समस्या है तो सिर के नीचे दो तकिये लगाकर सोएं ताकि आपका सिर सोते वक्त थोड़ा ऊंचा उठा रहे।

घुटने में तकिया

कई बार आपने लोगों को देखा होगा कि वे तकिया सिर के नीचे रखने की बजाए पैरों में फंसाकर सोते हैं। इस आदत के लिए कई बार घरवाले आपको टोकते होंगे, लेकिन इस पोजिशन से थकावट के बाद पैरों को काफी आराम (Relief) मिलता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper