स्कार्पियो ने दो सिपाहियों को रौंदा, एक दर्दनाक मौत

लखनऊ। राजधानी के पीजीआई थाना क्षेत्र के अन्र्तगत कल्ली पश्चिम चौकी में तैनात दो सिपाही रात में बाइक से गश्त कर रहे थे। तेज रफ्तार स्कार्पियो ने बाइक सवार सिपाहियों को टक्कर मार दी। एक सिपाही की दर्दनाक मौत मौके पर हो गयी। जबकि दूसरे सिपाही ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। सड़क हादसे में सिपाही की मौत से पूरा पुलिस महकमा गमगीन हो गया है।

प्राप्त जानकारी अनुसार गुरुवार देर रात करीब 1.00 बजे पीजीआई थानाक्षेत्र के कल्ली पश्चिम चौकी में तैनात दो सिपाही रमाकांत यादव, रविंद्र सिंह क्षेत्र में गस्त पर बाइक से निकले थे। गस्त करते हुए दोनों सिपाही कल्ली चौकी की ओर जा ही रहे थे कि पीछे से आ रही तेज़ रफ़्तार स्कार्पियो ने बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। इस टक्कर से बाइक चला रहा सिपाही रमाकांत यादव सड़क पर दूर जा गिरा, वहीं पीछे बैठा सिपाही रविंदर सिंह स्कार्पियो के नीचे आ गया।

स्कार्पियों की रफ्तार तेज होने के कारण रविंदर सिंह 15 मीटर दूर तक घिसटता चला गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। वहीं तेज़ रफ़्तार स्कार्पियो हाईवे किनारे बने एक घर में जा घुसी, जहां एक परिवार बाल-बाल बच गया। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों ने फौरन डायल 100 पर सूचना दी। जब तक पुलिस घटनास्थल पर पहुंचती उसके पहले ही सिपाही रविंदर सिंह की मौत हो चुकी थी। वहीं दूसरे सिपाही रमाकांत यादव को पुलिस ने पास के ही निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। उसके बाद सिपाही रमाकांत यादव को ट्रामा सेंटर में ईलाज के लिए भर्ती कराया गया, जहां उसका ईलाज चल रहा है।

मृतक सिपाही रविंदर सिंह 2005 बैच का सिपाही है, जिसका मूल निवास फतेहपुर है। विगत 2 साल पहले ही उनकी शादी हुई थी। परिवार में पत्नी अर्चना और 11 माह का बेटा सनी है। रविंदर मोहनलालगंज में परिवार संग रहता था। एसएसपी दीपक कुमार ने पोस्टमार्टम हाउस पहुंचकर नम आंखों से दी मृतक सिपाही रविंदर सिंह को श्रद्धांजलि और उसे परिवार को ढांढ़स भी बंधाया। इस मौके पर एसपी पश्चिमी विकास चंद्र त्रिपाठी, सीओ चौक दुर्गा प्रसाद तिवारी समेत कई आला अफसरों ने अपिज़्त की भावभीनी श्रद्धांजलि।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper