स्लो वाई-फाई को तेज करने के लिए अपनाएं ये 9 तरीके

अगर आपके घर के वाई-फाई के सिग्नल कमजोर हैं, तो ये 9 सिंपल टिप्स अपनाएं और स्लो वाई-फाई से निजात पाएं। क्लिक करें…

-राउटर घर के बीचों-बीच रखें, ताकि घर के हर हिस्से में बराबर सिग्नल पहुंचें।

-राउटर की पोजिशन तय करने के लिए आप क्लाउडचेक की भी मदद ले सकते हैं। इससे आपको पूरे घर का वाई-फाई रूट पता चल जाएगा, और आप तय कर पाएंगे कि कहां सिग्नल कमजोर हैं।

-राउटर को कभी भी फर्श पर न रखें। उसे जमीन से कम से कम 2 फीट ऊपर रखें, क्योंकि सिग्नल्स की दिशा कुछ नीचे की तरफ होती है। अगर राउटर फर्श पर रखा होगा तो सिग्नल्स के रास्ते में रुकावट आएगी।

-राउटर को टीवी कैबिनेट या पर्दे के पीछे न छिपाएं। उसे खुले में रखें, ताकि फ्री सिग्नल और बेहतर स्ट्रेंथ मिले।

-राउटर को टीवी, कॉर्डलेस फोन और माइक्रोवेव जैसे दूसरे इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स से दूर रखें। उनसे राउटर सिग्नल बाधित होते हैं, क्योंकि वे इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव्स छोड़ते हैं।

-वाई-फाई चोरों से सतर्क रहें। अपना डब्लूपीए पासवर्ड ऐसा रखें कि कोई उसे हैक न कर सके। इसके लिए आप त्मंअमत की हेल्प ले सकते हैं।

-सही वायरलेस चैनल भी आपके वाई-फाई के लिए इंपॉर्टंट है। खासतौर से तब, जब आपके आस-पास बहुत सारे वाई-फाई नेटवर्क हों। वाई-फाई एनेलाईजर और वाई-फाई स्टंबल्र जैसे टूल्स आपको अपने घर के लिए परफेक्ट चैनल सर्च करने में मदद कर सकते हैं। दूसरे राउटर्स की इंटरफरेंस कम करने से सिग्नल मजबूत किए जा सकते हैं।

राउटर सॉफ्टवेयर को अपग्रेड करते रहें। पुराने राउटर के मामले में आपको ज्यादा ध्यान देने की जरूरत होगी।

-चेक करें कि कहीं वीक सिग्नल का कारण आपका इंटरनेट सर्विस प्रवाइडर तो नहीं है। इस मामले में हम अक्सर कन्फ्यूज हो जाते हैं कि राउटर खराब है या सर्विस प्रवाइडर की समस्या है। अगर दोनों सिचुएशन (वाई-फाई से कनेक्शन और राउटर से डायरेक्ट कनेक्शन) में आपकी डिवाइस पर नेट स्लो है, तो इसकी वजह आपका सर्विस प्रवाइडर है। इसके लिए आप स्पीड टेस्ट की मदद ले सकते हैं, आपको पता चल जाएगा कि समस्या कहां है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper