हर थाने में कोतवाल के साथ तैनात होंगे दो एडिशनल एसएचओ

लखनऊ ब्यूरो। राजधानी और नोएडा समेत सभी प्रदेश के महानगरों के थानों में कोतवाल के साथ एडिशनल एसएचओ क्राइम और एडिशनल एसएचओ कानून-व्यवस्था तैनात किये जायेंगे। इसके लिए डीजीपी ने गुरुवार को छह सदस्यीय टीम का गठन किया है, जो बेहतर पुलिसिंग और क्राइम को कैसे कन्ट्रोल किया जाए, उस पर वह खाका तैयार करेगी।

पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने इससे पहले बाराबंकी और लखनऊ के कोतवाल को बुलाकर फीड बैक लिया था। पुलिस महानिदेशक को बताया गया था कि थानों में तैनात पुलिस कानून-व्यवस्था में ही उलझी रहती है। ऐसी स्थिति में घटनाओं की विवेचनाएं प्रभावित होती हैं। फीडबैक के आधार पर पुलिस महानिदेशक ने एडीजी टेक्निकल आशुतोष पाण्डेय की अध्यक्षता में 6 सदस्यीय कमेटी का गठन कर दिया है, जो 15 दिन में अपनी रिपोर्ट पुलिस महानिदेशक को सौंपेगी। कमेटी के रिपोर्ट के आधार पर बेहतर पुलिसिंग और क्राइम कंट्रोल के लिए खाका तैयार किया जायेगा। उसके बाद प्रदेश के महानगरों में पहले सभी थानों में कोतवाल के साथ एक एडिशनल एसएचओ को तैनात किया जायेगा।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper