हेडमास्टर बना हैवान, दूसरी कक्षा की छात्रा को बनाया हवस का शिकार

हैदराबाद: स्कूल के हेडमास्टर ने दूसरी कक्षा की छात्रा के साथ दुष्कर्म किया। आंध्र प्रदेश के इस 42 साल के हेडमास्टर को पुलिस ने कथित तौर पर दूसरी कक्ष में पढऩे वाली बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। यह घटना कृष्णा जिले के एक स्कूल में इस हफ्ते की शुरुआत में घटी। बताया जा रहा है कि यह घटना मंगलवार की है जब सरकारी स्कूल का हेडमास्टर बच्ची को एक खाली कमरे में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया।

यह स्कूल हैदराबाद से 295 किलोमीटर दूर है। बच्ची रोते हुए घर पहुंची। उसके शरीर पर चोट के निशान थे और उसके कपड़ों पर खून के धब्बे थे। उसने मां को आपबीती सुनाई और दर्द की शिकायत की। मां उसे निजी अस्पताल लेकर गई जहां डॉक्टरों ने बताया कि उसका यौन शोषण हुआ है। खून बंद करने के लिए बच्ची को चांर टांके लगाए गए।

माता-पिता ने हालांकि घटना की रिपोर्ट नहीं लिखवाई क्योंकि उन्हें बच्ची और अपने लिए संभावित नतीजों का डर था। सामाजिक कार्यकतार्ओं को जब इस घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने मासूम की मां को पुलिस में शिकायत दर्ज करवाने के लिए मनाया। जिसके बाद गुरुवार को शिकायत दर्ज हुई। आंध्र प्रदेश की मानव संसाधन विकास मंत्री गंता श्रीनिवास ने इस घटना का संज्ञान लिया है।

श्रीनिवास ने स्कूल के कमिश्नर को हेडमास्टर को निलंबित करने और घटना की जांच करने का भी आदेश दिया है। जिला शिक्षा अधिकारी एमवी राज्य लक्ष्मी ने कहा, तुरंत प्रभाव से आरोपी को सेवा से निलंबित कर दिया गया है। इस मामले में विभागीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper