हैवानियत की सारी हदें पार, तीन वर्षीय बच्ची को रेलवे स्टेशन से चुराकर किया रेप, रोने पर काट दिया सिर

जमशेदपुर: झारखंड के जमशेदपुर से इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला सामना आया है जहां तीन वर्षीय बच्ची का रेलवे स्टेशन से अपहरण कर दुष्कर्म किया गया। बच्ची रोती रही तो उसका स‍िर धड़ से अलग कर दिया गया। यह घटना टाटानगर रेलवे स्टेशन पर 25 जलाई को घटी।

जानकारी के अनुसार, 25 जुलाई की रात टेल्को निवासी रिंकू साहू द्वारा टाटानगर रेलवे स्टेशन परिसर से 3 साल की बच्ची की चोरी कर ली गई थी। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी जिसके आधार पर पुलिस ने रिंकू साहू को उसके घर से पकड़ ल‍िया। अपराधी रिंकू साहू ने बताया क‍ि इस घटना को उसने अपने एक मित्र काशीडी निवासी कैलाश कुमार के साथ मिलकर अंजाम दिया।

बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद गला काटकर उसे एक बागान में फेंक दिया गया। वहीं, पुलिस ने बच्चा चोर की निशानदेही पर शव को अपने कब्जे में ले लिया। इस घटना के मुख्य आरोपी रिंकू का आरोपित बयान है कि नशे के कारण इस तरह की घटना को वह पहले भी अंजाम दे चुके हैं। कई और बच्चे भी अपहरण करके इन्होंने बिक्री क‍िए हैं।

नागपंचमी पर 125 साल बन रहा है महासंयोग, इस तरह करें नागदेवता की पूजा

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper