होली पर ट्रामा सेंटर ने कसी कमर, 15 अतिरिक्त विशेषज्ञ डाक्टरों की तैनाती की गई

लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरोl उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के किंग जार्ज चिकित्सा विविद्यालय के ट्रामा सेंटर में आने वाले घायलों के इलाज के लिए 15 अतिरिक्त विशेषज्ञ डाक्टरों की तैनाती की गयी है। अगर मरीजों की अधिकता होती है तो बैकअप विशेषज्ञों की टीम भी बना दी गयी है। इसके अलावा बीस बिस्तर अतिरिक्त व वार्डों के खाली बिस्तरों को भी इमरजेंसी मरीजों को लिए भर्ती करने के निर्देश दिये गये है।

ट्रामा सेंटर प्रभारी व ट्रामा सर्जरी विभाग के प्रभारी डा. संदीप तिवारी ने बताया कि होली में ज्यादातर एक्सीडेंट के मरीज काफी संख्या में आते है। इसके बाद अल्कोहल के कारण बीमार हुए लोग आते है। इनके बेहतर इलाज के लिए इमरजेंसी में बीस अतिरिक्त बिस्तरों की व्यवस्था की गयी है। इसके अलावा वाडरे में खाली बिस्तरों को इमरजेंसी में भर्ती मरीजों का इलाज किया जाएगा।

डा. तिवारी ने बताया कि आम तौर पर मरीजों के इलाज के लिए रेजीडेंट व जूनियर डाक्टर के साथ वरिष्ठ डाक्टर होते है। इनकी संख्या लगभग 50-60 होती है। इनके अलावा 15 विशेषज्ञ डाक्टरों की टीम तैनात रहेगी। इनमें आर्थोपैडिक, न्यूरो सर्जन, प्लास्टिक सर्जन तथा ट्रामा इमरजेंसी विशेषज्ञ डाक्टर भी मौजूद रहेंगे।

इसके अलावा एक विशेषज्ञ डाक्टरों की टीम बैकअप में तैयारी की गयी है। अगर मरीजों की संख्या ज्यादा होती है और अन्य कोई दिक्कत होती है, तो बैकअप में विशेषज्ञ डाक्टरों की टीम भी तैयार की दी गयी है। वह तत्काल मदद को हाजिर हो जाएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper