ज़िंदगी की जंग हारा फतेहवीर, भड़के लोग!

अमृतसर: बोरवेल में 109 घंटे की जद्दोजहद के बाद 2 साल के फतेहवीर की मौत हो गई। मौत के बाद लोगों का सरकार व प्रशासन के खिलाफ गुस्सा व रोष बढ़ता जा रहा है। एकतरफ सोशल मीडिया पर लोग अपने गुस्से का इजहार कर रहे हैं वहीं सुनाम में सभी बाजार बंद कर दिए गए हैं। सभी दुकानें बद कर दी गई हैं। फतेहवीर की मौत के रोषस्वरूप लोग सड़कों पर उतर आए हैं।

उधर, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने दो वर्षीय मासूम फतेहवीर सिंह की मौत पर शोक जताया है। कैप्टन ने ट्वीट करके कहा कि फतेहवीर की मौत की खबर सुनकर बहुत दुख लगा है। उन्होंने कहा कि वह वाहेगुरू से अरदास करते हैं कि वह परिवार को इस सदमे को सहन करने का सामथ्र्य दें। इसके साथ ही कैप्टन ने ट्वीट में यह भी बताया है कि उन्होंने सभी जिलों के डिप्टी कमिश्नरों से राज्य में खुले बोरवेल के बारे में रिपोर्ट मांगी है जिससे ऐसे हादसों को भविष्य में होने से रोका जा सके।

फतेह की मौत के बाद गांव भगवानपुरा और सुनाम में लोगों की ओर से रोष-प्रदर्शन किया गया। लोगों ने आरोप लगाया है कि प्रशासन की ओर से फतेहवीर को बाहर निकालने को लेकर लापरवाही की गई है और इसी की भेंट वह चढ़ गया। लोगों द्वारा सुनाम-पटियाला सड़क पर जाम लगाकर रोष-प्रदर्शन किया जा रहा है और उनकी ओर से प्रशासन के विरुद्ध जमकर नारेबाजी भी की जा रही है।

उल्लेखनीय है कि सुनाम के समीप गांव भगवानपुरा का दो वर्षीय मासूम फतेहवीर बीती 6 जून की शाम को बोरवेल में गिर गया था। उसे आज सुबह 5 बजकर 12 मिनट पर रस्सियों की मदद से उसी पाइप से बाहर निकाला गया, जिस पाइप से वह बोरवेल में गिरा था। इसके बाद उसे पीजीआई ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे उसे मृत घोषित कर दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper