40+ में करें रॉक

लखनऊ: समय अपनी गति से चलता रहता है और इसमें पीछे छूटती जाती है इंसान की उम्र। 40 की उम्र के बाद आपको अपनी स्टाइलिंग में भी परिवर्तन की जरूरत होती है। दरअसल, एक महिला 40 का आंकड़ा पार करने के बाद टीनेजर्स की तरह कपड़े नहीं पहन सकती। ऐसे में सबसे बड़ा संकट कपड़ों और उनके रंगों के सेलेक्शन का होता है। हालांकि अगर उम्र के इस दौर में कपड़ों का सेलेक्शन सोच-समझकर किया जाए, तो आप काफी स्मार्ट व एलीगेंट लग सकती हैं।

अगर आपकी बॉडी स्लीक, ओवरग्लास या फिर इनवर्टेड ट्राइएंगल है, तो फिर कैजुअल लुक के लिए आप प्लेन टॉप के साथ प्रिंटेड पजामा कैरी कर सकती हैं। इसके अलावा कैजुअल्स में लूज टॉप विद पोल्का डॉट या फिर फ्लोरल प्रिंट टॉप विद जींस भी पहन सकती हैं। अगर आप हाउसवाइफ लुक कैरी करना चाहती हैं, तो सलवार सूट या फिर शॉर्ट कुर्ती विद पैंट पहनना अच्छा ऑप्शन रहेगा।

ऑफिस लुक में आप खुद को ग्रेस के साथ कैरी कर सकती है। इस लुक में लॉन्ग मैक्सी ड्रेस एक परफेक्ट समर ऑफिस लुक हो सकता है। अगर आप बिजनेसवुमन हैं, तो आपका लुक थोड़ा बोल्ड एवं अट्रैक्टिव होना चाहिए। इस लुक में आप इंडियन वियर में साड़ी को ग्रेसफुली कैरी कर सकती हैं। वेस्टर्न लुक में व्हाइट शर्ट विद पेंसिल स्कर्ट या बॉडी फिटेड जींस भी पहना जा सकता है। इसके अलावा अगर आपको किसी पार्टी में जाना है, तो साड़ी को प्राथमिकता दें। जरूरी नहीं है कि आप हर बार एक तरह की और एक ही स्टाइल में साड़ी पहनें। इसमें काफी बदलाव किए जा सकते हैं।

मसलन, मौसम को देखते हुए आप फ्लोरल प्रिंट साड़ी को प्राथमिकता दें। पार्टी में प्लेन व लाइट साड़ी के साथ हैवी ब्लाउज खूब जंचता है। इसी तरह आप साड़ी के डेपिंग स्टाइल में भी काफी बदलाव कर सकती हैं। इसके अलावा अगर आप थोड़ा मोटी हैं, तो लॉन्ग कुर्ती विद जींस, फ्लोरलेंथ कुर्ती, मैक्सी ड्रेस का चयन कर सकती हैं। साथ ही कोशिश करें कि आपके वार्डरोब में कुछ सॉलिड कलर्स हों। अगर आप स्टाइप्स पहन रही हैं, तो उसमें हॉरिजोन्टल लाइन की जगह वॢटकल लाइंस को प्राथमिकता दें। ठ्ठमधु निगम

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper