5 महीने के बाद जम्मू के इन 5 जिलों में 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवा आज से बहाल

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में करीब पांच महीने के बाद राज्य प्रशासन ने जम्मू संभाग के पांच जिलों जम्मू, सांबा, कठुआ, ऊधमपुर और रियासी में 15 जनवरी से पोस्टपेड पर 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवा को बहाल करने का निर्देश दिया है। वहीं, कश्मीर में भी होटलों, शैक्षिक संस्थानों और ट्रेवल एजेंसियों के लिए ब्राडबैंड सुविधा शुरू की जा रही है। राज्य गृह विभाग ने मंगलवार देर रात इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया है। हालांकि यह सुविधा फिलहाल सात दिनों के लिए है। आवश्यकता अनुसार इसे बढ़ाया या बंद किया जा सकता है।

मंगलवार को गृह विभाग की ओर से इस आशय का आदेश जारी किया गया। अपने तीन पृष्ठ के आदेश में गृह विभाग ने कहा कि कश्मीर संभाग में अतिरिक्त 400 इंटरनेट कियोस्क स्थापित किए जाएंगे। इंटरनेट सेवा प्रदाता आवश्यक सेवाओं वाले सभी संस्थानों, अस्पतालों, बैंकों के साथ-साथ सरकारी कार्यालयों में ब्रॉडबैंड सुविधा प्रदान करेंगे।

पर्यटन की सुविधा के लिएए ब्रॉडबैंड इंटरनेट होटलों और यात्रा प्रतिष्ठानों को प्रदान किया जाएगा। आदेश में यह भी कहा गया है कि जम्मू क्षेत्र में ई-बैंकिंग सहित सुरक्षित वेबसाइट देखने के लिए पोस्टपेड मोबाइलों पर 2जी मोबाइल कनेक्टिविटी की अनुमति दी जाएगी। आदेश में कहा गया है कि अन्य जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा प्रतिबंधित रहेगी। मैक बाइंडिंग उपभोक्ता को बाध्य करता है कि वह विशेष आईपी एड्रेस का इस्तेमाल करे।

इंटरनेट पाबंदी की समीक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था
सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद राज्य सरकार ने कानून व्यवस्था तथा वर्तमान स्थिति की समीक्षा करने के बाद जम्मू संभाग में मोबाइल इंटरनेट सेवा शुरू करने का फैसला किया है। माना जा रहा है कि सात दिनों बाद समीक्षा कर सेवा बहाली की अवधि बढ़ाई जा सकती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper