जानिए गर्भनिरोधक दवाओं का सेवन क्यों होता है खतरनाक

आज के वर्तमान समय में बहुत सी महिलाएं ऐसी हैं जो अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए गर्भनिरोधक दवाओं का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन बिना जानकारी के इस दवा का इस्तेमाल महिलाओं के लिए खतरनाक साबित होता हैं। इससे महिलाओं के शरीर में कई तरह की परेशानियां जन्म ले लेती हैं। इन परेशानियों के बारे में सभी महिलाओं को जानना चाहिए। तो आइये इसके बारे में जानते हैं विस्तार से की गर्भनिरोधक दवाओं का सेवन क्यों होता है खतरनाक।
मूड में परिवर्तन, गर्भनिरोधक दवा के सेवन से महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन्स की वृद्धि होती हैं। जिससे महिलाओं के मूड में परिवर्तन होने लगता हैं। साथ हीं साथ दिमाग में तनाव और स्ट्रेस भी उत्पन होने लगते हैं। जिससे महिलाएं अस्वस्थ हो जाती हैं। इसलिए महिलाओं को गर्भनिरोधक दवाओं का इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए और अगर इस्तेमाल करना हैं तो सबसे पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए ताकि किसी परेशानी का सामना करना ना पड़ें।
पीरियड्स में समस्या, ज्यादा गर्भनिरोधक दवाओं के सेवन से महिलाओं के शरीर में पाए जाने वाले हार्मोन्स अनियंत्रित हो जाते हैं। जिसके कारण महिलाओं में पीरियड्स से जुड़ी समस्या उत्पन हो जाती हैं। इस समस्या के कारण महिलाओं का पीरियड्स समय पर नहीं होता हैं तथा पीरियड्स के दौरान अत्यधिक दर्द का भी सामना करना पड़ता हैं। इसलिए महिलाएं बिना डॉक्टर की सहायता से गर्भनिरोधक दवाओं का इस्तेमाल ना करें।
वजन बढ़ना, गर्भनिरोधक दवाओं को कई तरह के रासायनिक क्रिया के द्वारा बनाया जाता हैं जो महिलाओं के शरीर के लिए खतरनाक साबित होता हैं। इसके सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा एकत्रित होने लगती हैं। जिससे महिलाओं का वजन अचानक से बढ़ने लगता हैं। साथ हीं साथ महिलाएं खुद को अस्वस्थ महसूस करती हैं। शरीर के वजन बढ़ने से महिलाओं के ओवरीज में भी संकुचन उत्पन होने लगता हैं। जिससे भविष्य में गर्भधारण करने में परेशानी होती हैं।
सिर दर्द की समस्या, गर्भनिरोधक दवाओं के सेवन से महिलाओं के दिमाग में स्ट्रेस हार्मोन्स का स्राव बढ़ जाता हैं। जिससे महिलाओं के सिर में दर्द की समस्या होती हैं। इतना हीं नहीं गर्भनिरोधक दवाओं के इस्तेमाल से कभी कभी दिमाग का न्यूरोट्रांसमीटर भी कमजोर हो जाता हैं। जिससे महिलाओं को मानसिक परेशानी होती हैं। इसलिए गर्भनिरोधक दवाओं का सेवन महिलाओं के खतरनाक माना जाता हैं।

मतली होना, गर्भनिरोधक दवा सबसे ज्यादा महिलाओं के पाचन तंत्र को प्रभावित करता हैं। जिससे महिलाओं के शरीर में मतली होने की समस्या जन्म ले लेती हैं। साथ हीं साथ महिलाओं के पेट में गैस और कब्ज की भी समस्या उत्पन होने लगती हैं। इससे महिलाएं खुद को अस्वस्थ महसूस करती हैं। इसलिए महिलाओं को गर्भनिरोधक दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए तथा इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले लेनी चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper