DMK सांसद गिरफ्तार, अनुसूचित जाति वर्ग के खिलाफ हेट स्पीच का आरोप

चेन्नै: तमिलनाडु के द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) के नेता और राज्यसभा सांसद आरएस भारती को चेन्नई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरएस भारती पर अनुसूचित जाति समुदाय के लोगों के खिलाफ विवादित भाषण देने का आरोप है। जानकारी के मुताबिक आरएस भारती ने 14 फरवरी 2020 को अनुसूचित जाति (SC) समुदाय के लोगों के खिलाफ कथित घृणास्पद भाषण दिया था।

भारती ने अपनी गिरफ्तारी को सत्ताधारी एआईएडीएमके की साजिश बताया है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार शाम को मैंने मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में शिकायत दर्ज कराई थी, इसीलिए अचानक उनकी गिरफ्तारी की गई है। उन्होंने यह भी कहा कि एक समूह द्वारा सोशल मीडिया पर उन्हें बदनाम करने के लिए कैंपेन चलाया जा रहा है। इसमें उनके एक भाषण का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है।

बता दें कि भारती उसी भाषण की बात कर रहे थे, जिसे लेकर उनकी गिरफ्तारी की गई है। मामला फरवरी 2020 का है। सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो क्लिप में भारती ने दलित जजों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने राज्य में मीडिया पर भी डीएमके के खिलाफ अभियान चलाने का आरोप लगाते हुए अपनी नाराजगी जाहिर की थी। भारती ने मीडिया की तुलना रेड लाइट एरिया से की थी, जिसे लेकर काफी विवाद हुआ था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper