Facebook कार्यालय के सामने सैंकड़ों महिलाओं ने न्यूड होकर किया प्रदर्शन, हैरान कर देगा सच

न्यूयॉर्क। फेसबुक कार्यालय के समक्ष निप्पल की तस्वीर को सांझा करने पर प्रतिबंध के खिलाफ न्यूयॉर्क में उसके मुख्यालय पर सैकड़ों लोगों ने न्यूड होकर अनोखा प्रदर्शन किया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों ने फेसबुक के इस फैसले का विरोध किया। प्रदर्शनकारी हाथ में निप्पल के कटआउट लेकर नग्न अवस्था में फेसबुक कार्यालय के सामने सड़क पर लेट गए। रिपोर्ट के अनुसार इस प्रदर्शन के बाद कहा जा रहा है कि फेसबुक समाधान कारी रवैया अपना कर अपनी पॉलिसी में कुछ बदलाव कर सकता है।

जानकारी के अनुसार तकरीबन 100 से अधिक लोगों ने कंपनी की इस पाबंदी के खिलाफ सड़क पर नग्न होकर इसका विरोध किया। विरोध करने वालों में अधिकतर युवक व महिलाएं शामिल हुईं। वैल्थनिपल के नाम से किया जा रहा ये प्रदर्शन सोशल मीडिया पर भी काफी प्रचारित किया जा रहा है। इस विरोध प्रदर्शन का आयोजन कलाकार स्पेंस टनिक और नेशनल कोलिशन ने किया था। प्रदर्शनकारियों ने अपने शरीर को पुरुषों के निप्पल के कटआउट से ढका हुआ था। जिसमे कुछ कटआउट महिलाओं के निप्पल्स के भी थे। फेसबुक मुख्यालय के सामने प्रदर्शन प्रदर्शनकारियों ने कहा कि इस पाबंदी से कला को नुकसान पहुंचेगा।

बता दें कि टनिक को उनकी न्यूड फोटोग्राफी के लिए जाना जाता है, वह काफी सालों से इस तरह की नीतियों के खिलाफ लड़ रहे हैं। फेसबुक ने टनिक के पेज को 2014 में बैन कर दिया था। इससे पहले भी वह इस तरह के प्रदर्शन का आयोजन कर चुके हैं। सोशल मीडिया पर काफी चर्चा टनिक ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर लिखा है कि मुझे जो काम सोशल मीडिया पर साझा करने की अनुमति है वह मेरी पहचान नहीं है। 21वीं सदी के कलाकार के तौर पर मैं काफी तरह से इंस्टाग्राम पर निर्भर हूं, यह एक वैश्विक मैग्जीन है और इस पर पाबंदी मेरी आत्मा पर पाबंदी है।

बता दें कि निप्पल की जो तस्वीरें प्रदर्शनकारियों के हाथ में थीं उसे पुरुष सेलेब्रिटीज और कलाकारों ने दी थी। जिसमे ब्रैवो एंडी कोहेन, एंड्री सरानो, एडम गोल्डबर्ग, टैड स्मिथ और टनिक शामिल हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper