कोरोना संक्रमण से पूर्व केन्द्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा के बेटे की मौत

लखनऊ: पूर्व केन्द्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा के मंझले बेटे दिनेश वर्मा की मंगलवार को कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई। उनका पिछले कई दिनों से दिल्ली के एस्कार्ट अस्पताल में इलाज चल रहा था। इलाज के दौरान उनकी तबीयत अचानक बिगड़ी और दोपहर में उनकी मौत हो गई। इससे पहले 27 मार्च को बेनी प्रसाद वर्मा का भी निधन हो गया था। उनके तीन बेटे थे।

दिनेश वर्मा भंडारण निगम में बाबू के पद पर कार्यरत थे और किडनी और लिवर की समस्या के चलते लंबे समय से उनका इलाज चल रहा था। 2007 में उनका किडनी ट्रांसप्लांट भी हुआ था। उनकी मां ने उन्हें किडनी डोनेट की थी। समय समय पर उसी के इलाज के लिए वह दिल्ली जाते थे। एक बार उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

तब लखनऊ के मेडिकल कॉलेज में भर्ती हुए थे। जहां इलाज के बाद उनकी रिपोर्ट निगेटिव हो गई। फिर वह इलाज के लिए दिल्ली एस्कार्ट हॉस्पिटल में किडनी लिवर के चल रहे इलाज के लिए भर्ती हुए। लेकिन, वहां उनकी कॉरोना की सैंपल रिपोर्ट दोबारा पॉजिटिव आ गई और मंगलवार दोपहर उनकी मौत हो गई।

लॉकडाउन के दौरान 27 मार्च को ही बेनी प्रसाद वर्मा की भी मौत लंबी बीमारी के बाद हो गई थी। बेनी प्रसाद वर्मा समाजवादी पार्टी के संस्थापक और देश के दिग्गज नेताओं में शुमार थे। वह समाजवादी पार्टी से राज्यसभा सांसद थे और उत्तर प्रदेश के कुर्मी समाज के सर्वमान्य नेता माने जाते थे। यूपीए-2 सरकार में बेनी प्रसाद वर्मा केन्द्रीय इस्पात मंत्री थे। वे सपा संस्थापक मुलायम सिंह के बेहद करीबी भी थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper